गुरूवार, जून 13, 2024

सांस्कृतिक आंदोलन के महानायक डॉ.रामदयाल मुंडा का आदिवासी संघर्ष मोर्चा ने मनाया 83वीं जयंती दिवस

Must Read

छत्तीसगढ़ (आदिनिवासी)। आज आदिवासी सांस्कृतिक आंदोलन के महानायक डॉ.रामदयाल मुंडा का 83वीं जन्म दिवस है। बौद्धिक और सांस्कृतिक आंदोलन के प्रेरणा स्रोत महानायक डॉ.रामदयाल मुंडा को आदिवासी संघर्ष मोर्चा छत्तीसगढ़ की ओर से उनकी जयंती दिवस के अवसर पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की जाती है। जिन्होंने आदिवासी संस्कृति को स्थापित करने के लिए लगातार संघर्ष करते रहे। आदिवासियों की कला संस्कृति उनके जीवन के रग-रग में थी। कला संस्कृति ही उनके जीवन का पर्याय था।

आदिनिवासी गण परिषद एवं आदिवासी संघर्ष मोर्चा छत्तीसगढ़ की ओर से आज उन्हें याद करते हुए वर्तमान दौर के आदिवासियों की

जल-जंगल-जमीन, भाषा-संस्कृति व सम्मान के संरक्षण के लिए पद्मश्री से सम्मानित महान कलाकार डॉ.रामदयाल मुंडा बौद्धिक और सांस्कृतिक आंदोलन के साथ ही हमारे राजनीतिक आंदोलन के भी प्रेरणास्रोत बने रहेंगे।


- Advertisement -
  • nimble technology
Latest News

जिला प्रशासन के दिशानिर्देश पर बालको ने कराया छात्रों को शैक्षणिक भ्रमण

बालकोनगर (आदिनिवासी)। वेदांता समूह की कंपनी भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बालको) ने जिला प्रशासन के दिशा निर्देशानुसार अपने संयंत्र परिसर...

More Articles Like This