रविवार, जून 16, 2024

रिमेजिनिंग छत्तीसगढ़ कार्यक्रम: मुख्यमंत्री के हाथों सम्मानित हुई शिक्षिका वसुंधरा कुर्रे

Must Read

कोरबा-हरदीबाजार (आदिनिवासी)। छत्तीसगढ़ सरकार के साथ ‘आउटलुक ग्रुप’ सामुदायिक निर्माण और ग्रामीण विकास के लिए काम कर रहे लोगों की कड़ी मेहनत और उत्साह को सम्मानित करने के लिए रायपुर राजधानी में विगत दिनों एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के विभिन्न प्रतिभाओं को जो समाज कल्याण के विभिन्न क्षेत्रों में अतुलनीय कार्य कर रहे हैं उन्हें सम्मानित किया गया।

यह कार्यक्रम ‘रिमेजीनिंग छत्तीसगढ़’ टाइटल से आयोजित किया गया। इसमें प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल प्रमुख अतिथि के रूप में मौजूद थे। विभिन्न क्षेत्रों में ग्यारह प्रतिभागियों को सम्मानित किया गया। जिसमें सिकंदर खां को स्थानीय बोलियों के मास्टर के रूप में सम्मानित किया गया। गोबर से पेंट बनाने के कार्य में सूरज नेटी को, काजू महुआ के लड्डू की दुकान में विशेष कार्य करने वाले कमलाबाई विश्वकर्मा को, आत्मरक्षा के लिए गुर सिखा रही हर्षा साहू को, कृषि के क्षेत्र में दुबराज के सुगंध पर काम करने वाले माधुरी लाल कश्यप को, संस्कृति से अटूट प्रेम रखने वाले मीर अली मीर साहित्यकार को, डॉ.दीदी रंजीता सेंडाल को, कला के क्षेत्र में कार्य करने वाले रामकुमार पटेल को, कैंसर पीड़ितों के लिए मसीहा का कार्य करने वाले सुदेशना रूहान को, पेड़ों की रखवाली उसकी सुरक्षा के लिए कार्य करने वाले रोम शंकर यादव को तथा स्कूल शिक्षा में नवाचार के माध्यम से अभिनव प्रयोग करने वाली श्रीमती वसुंधरा कुर्रे सहायक शिक्षक शासकीय प्राथमिक विद्यालय सरईसिंगार, कोरबा को खेल-खेल में पढ़ाई के लिए विशेष सम्मान प्रदान किया गया।

उल्लेखनीय है कि श्रीमती वसुंधरा कुर्रे वर्तमान में शासकीय प्राथमिक शाला सरईसिंगार में कार्यरत हैं। श्रीमती वसुंधरा कुर्रे विद्यालय में अध्यनरत बच्चों को खेल-खेल में शिक्षा देने और रचनात्मक गतिविधियों से बच्चों की रूचि के अनुसार पढ़ाई कराती हैं। जब उनके विद्यालय में दिल्ली आउटलुक ग्रुप ने साक्षात्कार लेने के लिए पहुंचा तब उन्होंने कहा कि “शिक्षा के क्षेत्र में वसुंधरा कुर्रे का प्रयोग पूरे देश के लिए प्रेरक है” प्रारंभ से ही वसुंधरा कुर्रे ने शिक्षा को विकास का प्रमुख आधार माना और इसे जन-जन तक पहुंचाने के लिए प्राथमिक शिक्षा को अपने जीवन का कैरियर भी चयन किया।

आप विगत डेढ़ दशकों से शिक्षा में कार्य करते हुए ग्रामीण क्षेत्र में महिला सशक्तिकरण, बालिका शिक्षा,सर्वशिक्षा,बालिका सम्मान, सर्व समाज विकास,स्वास्थ्य एवं नशा मुक्ति पर शिक्षा के माध्यम से कार्य कर रही हैं।आपको अब तक अनेकों जिला स्तरीय,राज्य स्तरीय तथा राष्ट्रीय स्तर का सम्मान मिल चुका है। आप विभिन्न राष्ट्रीय शोध संगोष्ठी में भी विभिन्न विषयों पर अपना शोध आलेख प्रस्तुत कर चुकी हैं।

निश्चित तौर पर वसुंधरा कुर्रे के कार्यों से विद्यालय विद्यालय शिक्षा से जुड़े लोगों को प्रेरणा लेनी चाहिए। इस पुरस्कार से नवाजे जाने पर इसका श्रेय वे अपने मम्मी पापा, रिश्तेदारों तथा अपने गुरुओं को देती हैं। आउट लुक ग्रुप छत्तीसगढ़ की चीफ एक्जीक्यूटिव इंद्रानिल रॉय सहित उनके पति पी.आर.कुर्रे, बिटिया चेतना, बेटा लोकेश, बड़े भैया प्रोफेसर प्यारेलाल आदिले सहित उनके सभी रिश्तेदार, मित्रों एवं विभागीय अधिकारियों ने बधाई प्रेषित किया है।


- Advertisement -
  • nimble technology
[td_block_social_counter facebook="https://www.facebook.com/Adiniwasi-112741374740789"]
Latest News

बालको विभिन्न पहल के माध्यम से सड़क सुरक्षा संस्कृति को दे रहा बढ़ावा

बालकोनगर (आदिनिवासी)। वेदांता समूह की कंपनी भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बालको) ने इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड (आईओसीएल), कोरबा बल्क...

More Articles Like This