मंगलवार, जून 25, 2024

छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में गोंड आदिवासी समुदाय द्वारा सामाजिक भवन की मांग: मंत्री को सौंपा ज्ञापन

Must Read

कोरबा (आदिनिवासी)। रविवार को, कोरबा के आदिवासी समुदाय ने कैबिनेट मंत्री वाणिज्य, उद्योग एवं श्रम मंत्री लखन लाल देवांगन को एक ज्ञापन सौंपकर सामाजिक भवन निर्माण की मांग की। गोंड समाज द्वारा सांस्कृतिक धरोहरों के संरक्षण एवं संवर्धन, लोक नृत्य, लोकगीत, शिल्प कला, काष्ठ कला, औषधीय ज्ञान आदि विषयों पर प्रशिक्षण देने और सामाजिक उत्थान हेतु अनेक कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। प्रतिवर्ष आदिवासी छात्र-छात्राओं के लिए खेल एवं सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं भी आयोजित की जाती हैं।

ज्ञापन में कहा गया है कि इन कार्यक्रमों के माध्यम से विभिन्न विषयों पर जानकारी प्रदान कर प्रशिक्षण दिया जाता है। इन गतिविधियों को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए एक सामाजिक भवन की अत्यंत आवश्यकता है।
गोंड समाज के अध्यक्ष श्रीमती जे.बी.कारपे, पार्षद अजय गोंड और वरिष्ठ सामाजिक पदाधिकारी तुलसी ठाकुर के नेतृत्व में प्रतिनिधि मंडल ने मंत्री देवांगन को ज्ञापन सौंपा। मंत्री जी ने आश्वासन दिया कि जल्द ही निर्माण कार्य प्रारंभ कर दिया जाएगा।

ज्ञापन सौंपने वाले प्रमुख सदस्यों में पुनीराम सिदार, दिलेश्वर मरावी, पंडित राम मरकाम, पूरन सिंह मरकाम, चंदन सिंह जगत, छेदू सिंह नेताम, ए.आर.सिदार, पवन मरकाम, करमहा सिंह सिदार, पार्वती मरावी, सरोज जगत, एस.एस.जगत, अनुराधा नेताम, देवनारायण मरावी, केजा राम मरकाम, हरि मरकाम, चंद्रभान सिंह, सुखराम सिदार, संघर्ष पोर्ते, परमानंद टेकाम, ओम प्रकाश मरावी, डी.एल मरावी, श्रीमती नीमा टेकाम, दीपांजलि, सुशीला पोर्ते, रुक्मणी मरकाम, ईशा टेकाम, अनीता, भारती, निर्मला देवी, महेतरीन बाई, किरण बाई, हेमलता, प्रियंका, तिहारू राम, सोन कुंवर, महेश बाई, निराबाई, सरस्वती बाई, अंबिका बाई।

इस पहल का उद्देश्य गोंड आदिवासी समुदाय की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत का संरक्षण एवं संवर्धन करना। युवा पीढ़ी को अपनी संस्कृति से जोड़ना और उन्हें विभिन्न कलाओं में प्रशिक्षण प्रदान करना। सामाजिक उत्थान एवं सामुदायिक विकास को बढ़ावा देना है।

यह पहल कोरबा जिले के आदिवासी समुदाय के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि यह उनकी सांस्कृतिक पहचान को बनाए रखने में मदद करेगा। युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करेगा। सामाजिक सद्भाव और एकता को बढ़ावा देगा।
कोरबा गोंड समाज द्वारा सामाजिक भवन निर्माण की मांग एक महत्वपूर्ण पहल है। यह आदिवासी समुदाय की सांस्कृतिक विरासत को संरक्षित करने और सामाजिक विकास को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। 


- Advertisement -
  • nimble technology
[td_block_social_counter facebook="https://www.facebook.com/Adiniwasi-112741374740789"]
Latest News

भारत की वीरांगना: महारानी दुर्गावती की 260वीं बलिदान दिवस पर संगोष्ठी

कोरबा (आदिनिवासी)। आदिवासी शक्ति पीठ, बुधवारी बाजार कोरबा में 24 जून को मध्य भारत के बावन गढ़ संतावन परगना...

More Articles Like This