बुधवार, जुलाई 24, 2024

कोरबा मेडिकल कॉलेज: मध्य भारत का अग्रणी चिकित्सा केंद्र बनने की ओर – ज्योत्सना

Must Read

कोरबा (आदिनिवासी)। लोकसभा चुनाव के बाद पहली बार कोरबा पहुंचीं सांसद ज्योत्सना चरणदास महंत ने बिसाहूदास महंत स्मृति चिकित्सा संस्थान (मेडिकल कॉलेज) का दौरा किया। उन्होंने संस्थान की वर्तमान स्थिति का जायजा लेते हुए प्रबंधन से विस्तृत चर्चा की।
मेडिकल कॉलेज प्रबंधन ने सांसद को अवगत कराया कि पहले जहां मात्र 35 चिकित्सक कार्यरत थे, वहीं अब 122 चिकित्सक और विशेषज्ञ सेवाएं दे रहे हैं। इतने ही अतिरिक्त पदों को भरने की प्रक्रिया चल रही है।

सांसद महंत ने कहा, “मेडिकल कॉलेज की स्थापना से जिला अस्पताल में चिकित्सा सुविधाओं में उल्लेखनीय सुधार हुआ है। मरीजों की संख्या में भी काफी वृद्धि देखी गई है। हालांकि, प्रारंभिक चरण में कुछ चुनौतियां हैं जिन्हें हम सभी जनप्रतिनिधियों को मिलकर दूर करना होगा।”

उन्होंने आगे बताया कि चिकित्सकों और छात्रों के लिए आवास तथा छात्रावास की व्यवस्था हेतु जिला प्रशासन, निजी व सार्वजनिक उपक्रमों के साथ-साथ खनिज न्यास से सहयोग लिया जाएगा। केंद्र और राज्य सरकार से प्राप्त धनराशि के अतिरिक्त, जिले को मिलने वाले खनिज न्यास की राशि का भी उपयोग मेडिकल कॉलेज में पर्याप्त सुविधाओं और संसाधनों के विकास में किया जाएगा।

छात्रों से मुलाकात के दौरान सांसद ने आश्वासन दिया कि आने वाले समय में उच्च स्तरीय सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। उन्होंने दृढ़ता से कहा, “मेरा लक्ष्य है कि कोरबा का मेडिकल कॉलेज न केवल छत्तीसगढ़ बल्कि समूचे मध्य भारत का सर्वश्रेष्ठ चिकित्सा संस्थान बने।”

इस अवसर पर मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. अविनाश मेश्राम, डॉ. रविकांत जाटवर, सिविल सर्जन डॉ. गोपाल कंवर, कांग्रेस नेता हरीश परसाई और छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विस कॉर्पोरेशन के अधिकारी भी उपस्थित थे।


- Advertisement -
  • nimble technology
[td_block_social_counter facebook="https://www.facebook.com/Adiniwasi-112741374740789"]
Latest News

कलेक्टर की पहल: विशेष पिछड़ी जनजातीय परिवारों के 18 वर्ष से अधिक के सभी सदस्यों के बैंक खाते खोले जाएंगे!

सभी बच्चों को आयुष्मान कार्ड बनाने डीपीओ और डीईओ को दिए निर्देश बैंक खाते खुलने से योजनाओं का लाभ उठाने...

More Articles Like This