गुरूवार, जून 13, 2024

विशेष पिछड़ी जनजातियों में 80 फीसदी से ज्यादा मतदान: जागरूकता कार्यक्रम का सकारात्मक प्रभाव

Must Read

कोरबा (आदिनिवासी)। लोकसभा निर्वाचन 2024 अन्तर्गत कोरबा जिले में रहने वाले विशेष पिछड़ी जनजाति पहाड़ी कोरवा और बिरहोर मतदाताओं ने लोकतंत्र को मजबूत बनाने अपनी अहम भागीदारी दी। जिले में रहने वाले विशेष पिछड़ी जनजाति परिवार के मतदाताओं ने घर से निकलकर मतदान किया।

कोरबा ब्लाक के अन्तर्गत पहाड़ी कोरवा वाले ग्राम केराकछार, गेरांव, नकिया, पतरापाली, देवपहरी, ढोकरमना, गढ़उपरोढ़ा, अमलडीहा, बड़गांव, अजगरबहार, चचिया, बेला, लबेद, मदनपुर, माखूरपाली, लेमरू,सिमकेंदा, सतरेंगा, करतला ब्लाक के ग्राम करतला, पीड़िया, बेहरचुंवा, पोड़ीउपरोड़ा ब्लाक के गुडरूमुड़ा, कुटेश्वरनगोई, डोंगरतराई, खोडरी, अमलडीहा, मल्दा, लालपुर, केसलपुर, तानाखार, कटोरीनगोई, कोनकोना, तथा ब्लाक के पोटापानी, शिवपुर, कोडार, माखनपुर, डोंगानाला, ईरफ, भण्डारखोल, मांगामार, उड़ता, नुनेरा, डुमरकछार क्षेत्र में रहने वाले विशेष पिछड़ी जनजाति समुदाय के मतदाताओं ने बढ़चढ़कर मतदान किया।

कलेक्टर अजीत वसंत द्वारा जिले में निवास करने वाले विशेष पिछड़ी जनजाति समुदाय के मतदाताओं को मतदान हेतु जागरूक करने अधीनस्थ अधिकारियों को निर्देश दिये जा रहे थे। इस दिशा में विशेष पिछड़ी जनजाति मतदाताओं को जागरूक करने स्वीप की गतिविधियां आयोजित कर लोकतंत्र के निर्माण में उनकी भागीदारी को बताया गया और मतदान दिवस को आदर्श मतदान केंद्र,सेल्फी पॉइंट बनाकर उन्हें प्रेरित किया गया। इसी का परिणाम है कि कोरबा जिले में विशेष पहचान रखने वाले 80 फीसदी विशेष पिछड़ी जनजाति परिवार के मतदाताओं ने बढ़चढ़ कर मतदान किया।


- Advertisement -
  • nimble technology
Latest News

जिला प्रशासन के दिशानिर्देश पर बालको ने कराया छात्रों को शैक्षणिक भ्रमण

बालकोनगर (आदिनिवासी)। वेदांता समूह की कंपनी भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बालको) ने जिला प्रशासन के दिशा निर्देशानुसार अपने संयंत्र परिसर...

More Articles Like This