रविवार, जून 16, 2024

कलेक्टर संजीव झा एवं पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह ने बालिका गृह एवं दत्तक ग्रहण अभिकरण के बच्चों के साथ मनाया रक्षाबंधन पर्व

Must Read

कलेक्टर ने कौशल उन्नयन के लिए बालिका गृह के बालिकाओं को सीपेट से प्रशिक्षण दिलाने तथा बालिका गृह भवन में सोलर सिस्टम लगाने के दिए निर्देश

कोरबा (आदिनिवासी)। कलेक्टर संजीव झा एवं पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह ने कोरबा शहर में स्थित बालिका गृह व दत्तक ग्रहण अभिकरण से संबंधित संस्था में पहुंच कर बच्चों के साथ रक्षाबंधन का त्यौहार मनाया। कलेक्टर एवं एसपी ने बाल गृह (बालिका), सुमति सामुदायिक विकास संस्था व विशिष्ट दत्तक ग्रहण अभिकरण, सेवा भारती मातृ छाया संस्था का भ्रमण कर संस्था में निवासरत् बच्चों के साथ रक्षा बंधन का पर्व मनाया।

कलेक्टर श्री झा ने एवं एसपी श्री सिंह ने बाल गृह बालिका, व दत्तक ग्रहण ऐजेंसी में बालिका व बच्चें को रक्षाबंधन पर्व पर मिठाई का वितरण कर खुशियां बांटी। कलेक्टर ने बालिकाओं के प्रतिभा को निखारने, स्कील डेवलपमेंट, सीपेट से रोजगार उन्मूलन प्रशिक्षण प्रदान कराने, संस्था में निवासरत् बालिकाओं हेतु कम्प्यूटर प्रशिक्षण प्रदान कराने हेतु दो सेट कम्प्यूटर प्रदान करने तथा सोलर सिस्टम लगाने हेतु क्रेडा से प्रदान करने के निर्देश दिए गये । इसी तरह से दत्तक ग्रहण ऐजेंसी में लाभांवित बच्चों के समुचित पालन पोषण के निर्देश दिये गये तथा अनुदान राशि शीघ्र रिलीव करने हेतु निर्देश दिये गये ।

विशेष जरूरत वाले बच्चों हेतु विभाग से मार्गदर्शन प्राप्त कर उपयुक्त संस्था में रिफर करने हेतु निर्देश दिए गये। बालिका गृह में 53 बालिकाएं एवं दत्तक ग्रहण संस्था में 15 बच्चे लाभान्वित हो रहे है। संस्था भ्रमण के दौरान कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक ने बच्चों से व्यक्तिगत वार्तालाप कर उनसे उनका हालचाल जाना। कलेक्टर एवं एसपी को अपने बीच पाकर संस्था में निवासरत् बालिकाऐं अति उत्साहित रही।

उल्लेखनीय है कि किशोर न्याय (बालकों की देखरेख एवं संरक्षण) अधिनियम 2015 नियम 2016 के अनुक्रम में एकीकृत बाल संरक्षण योजना अंतर्गत कोरबा जिलें में बच्चों के देखरेख एवं संरक्षण को सुनिश्चित किये जाने हेतु बाल देखरेख संस्थाऐं संचालित है। उपरोक्त संस्थाओं में देखरेख एवं संरक्षण की आवश्यकता वाले बालक / बालिकाओं संरक्षण प्रदान किया जाता है। संस्थाओं में निवासरत् समस्त बालक / बालिकाओं के हुनर व प्रतिभा को निखारने का भी कार्य किया जाता है।

बाल देखरेख संस्थाओं के भ्रमण के दौरान एसडीएम कोरबा हरिशंकर पैंकरा, जिला कार्यक्रम अधिकारी एमडी नायक, जिला बाल संरक्षण अधिकारी दया दास महंत सहित बाल गृह (बालिका), सुमति सामुदायिक विकास संस्था व विशिष्ट दत्तक ग्रहण अभिकरण, सेवा भारती मातृ छाया संस्था के अध्यक्ष, सचिव व संस्था के कर्मचारी उपस्थित रहे।


- Advertisement -
  • nimble technology
[td_block_social_counter facebook="https://www.facebook.com/Adiniwasi-112741374740789"]
Latest News

बालको विभिन्न पहल के माध्यम से सड़क सुरक्षा संस्कृति को दे रहा बढ़ावा

बालकोनगर (आदिनिवासी)। वेदांता समूह की कंपनी भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बालको) ने इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड (आईओसीएल), कोरबा बल्क...

More Articles Like This