मंगलवार, जून 25, 2024

ऊर्जाधानी संगठन ने किया नापी सर्वे का विरोध, सर्वे टीम को ग्रामीणों ने भगाया

Must Read

सर्वे पर रोक लगाने एसडीएम पाली से करेंगे मांग

प्रभावितों ने कहा, पहले मुआवजा, बसाहट, रोजगार का करें निराकरण

कोरबा (आदिनिवासी)। साउथ ईस्ट कोलफील्ड लिमिटेड एसईसीएल गेवरा क्षेत्र के द्वारा ग्राम अमगांव को खनन कार्य के लिए अधिग्रहित किया गया है पहले अमगांव के मुख्य बस्ती को दो हिस्से में परिसंपत्तियों का नापी सर्वे किया गया था लेकिन नापी सर्वे उपरांत मुआवजा रोजगार बसाहट समेत अन्य मामले आज भी लंबित पड़े हैं जिसके कारण ग्राम पंचायत अमगांव के प्रभावित ग्रामीणों के द्वारा लगातार नापी सर्वे का विरोध किया जा रहा है पहले लंबित पड़े प्रकरणों की सुनवाई करने के बाद ही नापी सर्वे का कार्यवाही को आगे बढ़ाना चाहिए लेकिन ग्राम पंचायत अनगांव के शेष बचे परिसंपत्तियों को एसईसीएल गेवरा प्रबंधन नापी सर्वे करने के लिए अमादा है जिसका अमगांव पंचायत के प्रभावित ग्रामीणों के द्वारा लगातार विरोध किया जा रहा है प्रभावित ग्रामीणों ने सर्वे टीम को वहां से चलता कर दिया प्रभावितों ने कहा कि पहले लंबित पड़े मुआवजा रोजगार बसाहट सहित अन्य मामले की निराकरण किया जाना चाहिए वे सर्वे को रोक लगाने के लिए पाली एसडीएम से मांग करेंगे।

ऊर्जाधानी भूविस्थापित किसान कल्याण समिति संगठन ने ग्राम पंचायत अमगांव पहुंचकर प्रभावित ग्रामीणों के साथ नापी सर्वे को बंद करा कर वापस लौटाये संगठन के केंद्रीय अध्यक्ष सपुरन कुलदीप ने कहा कि प्रभावित ग्रामीणों के द्वारा अपने लंबित पड़े मुआवजा रोजगार बसाहट सहित अन्य मामले का निराकरण की मांग कर रहे हैं इसके बाद भी एसईसीएल प्रबंधन लगातार नापी सर्वे करने के लिए अमादा है बरसात का समय भी है और इस समय किसान अपनी फसल बुवाई खेती किसानी में उलझा रहता है घर पर पुरुष महिला वर्ग नहीं रहते वे खेती किसानी के कामों में व्यस्त रहते हैं और ऐसे समय में एसईसीएल गेवरा प्रबंधन के द्वारा लगातार नापी सर्वे का दबाव बनाया जा रहा है जिसका जबरदस्त प्रभावित ग्रामीणों के साथ सर्वे टीम का विरोध किया गया और वहां से वापस जाने को कहा गया कुलदीप आगे कहा कि इस मामले को लेकर पाली विकासखंड के अनुविभागीय दंडाधिकारी को लंबित पड़े अमगांव पंचायत के मुआवजा रोजगार बसाहट सहित अन्य मामले का निराकरण करने के लिए मांग किया जाएगा तब तक नापी सर्वे पर रोक लगाई यदि जोर-जबर्दस्ती सर्वे का काम कराया जाएगा तो एसईसीएल मुख्य कार्यालय और खदानों को बंद किया जाएगा।
दर्राखांचा के ग्रामीण इंटक जिलाध्यक्ष के साथ कटघोरा विधायक के निवास पहुंचकर नापी सर्वे पर रोक लगाने हस्तक्षेप का किया आग्रह

अमगांव पंचायत दर्राखांचा के प्रभावित ग्रामीणों ने इंटक के जिलाध्यक्ष श्यामू (खुशाल) जायसवाल के साथ कटघोरा विधायक पुरुषोत्तम कंवर के निवास पहुंचकर मुलाकात की और बताया कि एसईसीएल गेवरा क्षेत्र के प्रबंधन के द्वारा मनमानी करते हुए जोर जबरदस्ती से नापी सर्वे करने का दबाव बनाकर नापी करने में अमादा है। जिसका प्रभावित ग्रामीणों के द्वारा लगातार विरोध किया जा रहा है। आपसे अनुरोध है इस नापी सर्वे पर रोक लगाने में हमारी सहयोग करें। इस पर कटघोरा विधानसभा के विधायक पुरुषोत्तम कवर ने साफ कहा जब तक आप लोग नहीं चाहेंगे, सर्वे मूल्यांकन नहीं होगा इस संबंध में मेरा पूरा सहयोग रहेगा।


- Advertisement -
  • nimble technology
[td_block_social_counter facebook="https://www.facebook.com/Adiniwasi-112741374740789"]
Latest News

भारत की वीरांगना: महारानी दुर्गावती की 260वीं बलिदान दिवस पर संगोष्ठी

कोरबा (आदिनिवासी)। आदिवासी शक्ति पीठ, बुधवारी बाजार कोरबा में 24 जून को मध्य भारत के बावन गढ़ संतावन परगना...

More Articles Like This