बुधवार, जुलाई 24, 2024

छत्तीसगढ़ में मॉब लिंचिंग की निंदा: किसान सभा और जन संगठनों का संयुक्त प्रदर्शन

Must Read

रायगढ़ (आदिनिवासी)। छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले के आरंग थाना क्षेत्र में गौ तस्करी के संदेह में हुई मॉब लिंचिंग ने राज्य की शांतिप्रिय जनता को हिला कर रख दिया है। 6-7 जून की मध्यरात्रि में हुई इस घटना में दो युवकों की मौके पर ही मृत्यु हो गई, जबकि तीसरा युवक गंभीर रूप से घायल होने के बाद अस्पताल में दम तोड़ गया।
इस जघन्य अपराध के विरोध में छत्तीसगढ़ के विभिन्न जिलों में कई संगठनों ने ज्ञापन दिए। उनकी मुख्य मांगें थीं:-

1. मॉब लिंचिंग के दोषियों पर कड़ी कार्रवाई
2. पीड़ित परिवारों को उचित मुआवजा

ज्ञापन देने के बावजूद कोई ठोस कार्रवाई न होने से न्यायप्रिय जनता और संगठन प्रदर्शन करने को मजबूर हुए। इसी क्रम में छत्तीसगढ़ किसान सभा रायगढ़ ने अंबेडकर प्रतिमा के पास एक सांकेतिक प्रदर्शन का आयोजन किया। इस प्रदर्शन में निम्नलिखित संगठनों और नागरिकों ने भाग लिया:-
– संयुक्त किसान मोर्चा
– जिला बचाओ संघर्ष मोर्चा
– भारतीय जन नाट्य संगठन (इप्टा)
– अखिल भारतीय शांति एवं एकजुटता संगठन (एप्सो)
– आम नागरिक
प्रदर्शन में विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधियों ने अपने विचार रखे। वक्ताओं ने कहा कि शांति के प्रतीक छत्तीसगढ़ में हुई इस घटना की जितनी निंदा की जाए, कम है। उन्होंने छत्तीसगढ़ पुलिस प्रशासन की कार्यशैली पर सवाल उठाए, क्योंकि घटना के 13 दिन बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई थी।
प्रदर्शनकारियों ने निम्नलिखित मांगों को लेकर जोरदार नारेबाजी की।
1. दोषियों की तत्काल गिरफ्तारी
2. पीड़ित परिवारों को एक करोड़ रुपये का मुआवजा।

प्रदर्शन के अंत में, छत्तीसगढ़ किसान सभा ने राज्यपाल और मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन तहसीलदार रायगढ़, श्री लोमेश मिरी को सौंपा। इस ज्ञापन पर अन्य संगठनों के पदाधिकारियों ने भी हस्ताक्षर करके अपना समर्थन दर्ज कराया।
यह जानकारी किसान सभा के अध्यक्ष लंबोदर साव द्वारा दी गई।


- Advertisement -
  • nimble technology
[td_block_social_counter facebook="https://www.facebook.com/Adiniwasi-112741374740789"]
Latest News

कलेक्टर की पहल: विशेष पिछड़ी जनजातीय परिवारों के 18 वर्ष से अधिक के सभी सदस्यों के बैंक खाते खोले जाएंगे!

सभी बच्चों को आयुष्मान कार्ड बनाने डीपीओ और डीईओ को दिए निर्देश बैंक खाते खुलने से योजनाओं का लाभ उठाने...

More Articles Like This